Available%252520At%252520Poster_edited_edited_edited.jpg

EK AKELA PED

Now available worldwide

 

ABOUT THE BOOK

Ek Akela Ped is a collection of 21 Hindi poems and related prose and Illustrations. These poems compiled over a period of 2 years explore existential questions and make observations about events, places and people around us. Available in Paperback, Hardcover and ebook.

एक अकेला पेड़ चनप्रीत सिंह द्वारा लिखित इक्कीस कविताओं का संग्रह है | कम शब्दों में जीवन के अहम मुद्दों को एक सरल और अद्वितीय रूप में इस किताब में कविताओं के रूप में प्रस्तुत किआ गया है | चाहे वो जीवन और मौत के बीच का सफ़र हो या फिर रोज़ मर्रा की ज़िंदगानी, इन कविताओं में ज़िन्दगी से जुड़ी हर छोटी-बड़ी बात की व्याख्या है जो इस किताब को सम्पूर्ण करती हैं | कविताओं के साथ ही स्वयम चनप्रीत द्वारा ही बनाए गए कुछ चित्र भी इस किताब में मौजूद हैं जो इन कविताओं का रसमय बना देते हैं |

इस किताब का एक सैंपल आप यहाँ नीचे दिए गए बटन को क्लिक करके पढ़ सकते हैं |

 
IMG_1038_edited_edited.jpg

VIRTUAL BOOK LAUNCH

September 26, 2020

Event Credits

Event host: Sheherazaad

Event management: Jasveen Setia

Media coverage: Dil Ki Awaaz Bolly 92.3 FM

Studios: StageOne Studios

 

SPOKEN WORD

Chanpreet regularly reads his poetry to diverse audiences